Haseen Dillruba Movie Review: Taapsee Panuu, Vikrant Massey और Harshvardhan Rane की ‘हसीन’ एक्टिंग को ले डूबी ढीली स्क्रिप्ट

Haseen Dillruba Movie Review: Taapsee Panuu, Vikrant Massey और Harshvardhan Rane की ‘हसीन’ एक्टिंग को ले डूबी ढीली स्क्रिप्ट

Taapsee Panuu, Vikrant Massey और हर्षवर्धन राणे (Harshvardhan Rane) की दमदार एक्टिंग से सजी निर्देशक विनिल मैथ्यू की फिल्म हसीन दिलरूबा (Haseen Dillruba) नेटफ्लिक्स (Netflix) पर रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म का दमदार ट्रेलर देखने के बाद दर्शकों को फिल्म की रिलीज का इंतजार था जो अब पूरा हो गया है। नेटफ्लिक्स पर स्ट्रीम हो रही इस फिल्म को क्या आप इस हफ्ते वीकेंड पर देखना चाहेंगे। क्या ये फिल्म ट्रेलर के दावों पर खरी उतरती हैं। आइए जानते हैं।

क्या है कहानी?

ये एक सस्पेंस थ्रिलर रोमांटिक फिल्म है। जिसमें Taapsee Panuu ने रानी कश्यप नाम की एक ग्लैमरस लड़की की भूमिका निभाई है जिसकी रिशू (Vikrant Massey) से अरेंज मैरिज होती है। जल्दी ही दोनों को एहसास होता है कि दोनों एक दूसरे के लिए परफेक्ट नहीं है और दोनों के बीच रोमांस शुरू होने से पहले ही खत्म हो जाता है।

इसके बाद कहानी में नील (हर्षवर्धन राणे) की एंट्री होती है। जो रिशू का कजिन है। नील एक बेहद डैशिंग, हैंडसम, चार्मिंग लड़का है जो बिल्कुल Taapsee Panuu के सपनों के लड़के जैसा है। कहानी में ट्विस्ट आता है जब रिशू की मौत हो जाती है और सारा शक रानी और नील पर चला जाता है।

क्या है खास?

फिल्म के लीड कलाकारों Taapsee Panuu, हर्षवर्धन राणे और Vikrant Massey समेत साइड एक्टर्स ने भी शानदार काम किया है। आदित्य श्रीवास्तव, दया शंकर पांडे, आशीष वर्मा और यामिनी दास सभी ने दर्शकों को इंप्रेस किया है। जबकि अमित त्रिवेदी के गाने, बैक ग्राउंड स्कोर, जया कृष्णा गुम्मादी के कैमरा वर्क और श्वेता वेंकट मैथ्यू की एडिटिंग ने फिल्म को संभालने में अच्छी भूमिका निभाई है।

फिल्म के सभी कलाकारों की एक्टिंग को छोड़कर इसमें कई कमियां रह गई है। कनिका ढिल्लन की कमजोर राइटिंग और डायरेक्शन की ढीली कमान दर्शकों को ब्रीथिंग स्पेस दे देती है। जिससे फिल्म अपनी पकड़ खो देती है।

कहां रह गई कमी?

इसके अलावा हसीन दिलरुबा के साथ दो सबसे बड़े मुद्दे हैं। जो इसे कमजोर बनाते हैं। फिल्म का क्लाइमेक्स सीन बिल्कुल मसाला फिल्मों की तरह है। जबकि ये पूर्ण रूप से मसाला फिल्म नहीं है। फिल्म में Taapsee Panuu के किरदार रानी का पति रिशू के सामने सामने माफी के लिए गिड़गिड़ाना (बिना किसी गलती के) रिशे के मेल ईगो के चलते उसे शारीरिक चोट पहुंचाना एक्ट्रेस की फिल्में थप्पड़ और सांड की आंख के दर्शकों को हिला देगा। इस दौरान रानी के परिवार का गायब होना भी सवाल उठाता है। मूल रूप से, यह महिला सशक्तिकरण के मुद्दो को हवा देता है। ऐसे में ये फिल्म मसाला फिल्मों के सामने फीकी पड़ती दिखती हैं।

बीएल का फैसला

Taapsee Panuu ने अपनी फिल्मों में बोल्ड किरदार करके लोगों का दिल जीता है। मगर इस फिल्म में उनका किरदार एक्ट्रेस के फैंस को निराश कर सकता है। हालांकि Taapsee, हर्षवर्धन और Vikrant की दमदार एक्टिंग के लिए बॉलीवुड लाइफ इस फिल्म को 5 में से 2 स्टार देता है।