MNS ने Amitabh Bachchan के घर के सामने लगाए उनके पोस्टर, वजह बना बिग बी का घर

MNS ने Amitabh Bachchan के घर के सामने लगाए उनके पोस्टर, वजह बना बिग बी का घर

MNS (महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना) ने बॉलीवुड के महानायक Amitabh Bachchan के घर के सामने पोस्टर लगाकर खास अपील की है। दरअसल मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) बिग बी के जुहू स्थित बंगले ‘प्रतीक्षा’ की एक तरफ की दीवार तोड़कर सड़क चौड़ी करने की तैयारी कर रही है। जिसके चलते MNS ने उनके घर के सामने एक पोस्टर लगाकर दीवार तोड़ने में सहयोग दिखाने की अपील की है।

अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स नाउ की खबर के अनुसार पोस्टर पर Amitabh Bachchan की तस्वीर के साथ MNS ने पोस्टर पर लिखा है कि वह ‘प्रतीक्षा’ कर रहे हैं कि बड़े दिल वाले बिग बी सड़क को चौड़ा करने में मदद करेंगे। गौरतलब है कि ‘प्रतीक्षा’ बंगले की दीवार तोड़ने के लिए 2017 में ही Amitabh Bachchan को बीएमसी ने नोटिस भेज दिया था, लेकिन Bachchan ने इस नोटिस का जवाब अभी तक नहीं दिया है।

बीएमसी ने मुंबई उपनगरीय कलेक्ट्रेट के सर्वे अधिकारियों को ‘प्रतीक्षा’ बंगले के तोड़े जाने वाले हिस्से को चिन्हिंत करने के निर्देश दे दिए हैं। इस बंगले की दीवार संत ज्ञानेश्वर मार्ग को चौड़ा करने के लिए तोड़ी जा रही है। यह मार्ग ‘प्रतीक्षा’ बंगले से शुरू होकर एस्कॉन मंदिर की ओर जाता है। जुहू के संत ज्ञानेश्वर मार्ग की चौड़ाई फिलहाल सिर्फ 45 फुट है। बीएमसी इसकी चौड़ाई बढ़ाकर 60 फुट करना चाहती है, ताकि यहां आए दिन लगने वाले जाम से छुटकारा मिल सके। इस रोड चौड़ीकरण के दायरे में दो बंगले आ रहे हैं।

प्रतीक्षा’ जुहू में Bachchan परिवार द्वारा खरीदा गया यह पहला बंगला है। इसके अलावा इसी क्षेत्र में Amitabh के तीन और बंगले हैं। विले पार्ले से जेडब्ल्यू मैरिएट की ओर जाने वाले मार्ग पर उनका दूसरा बंगला ‘जलसा’ स्थित है, जिसमें पूरा Bachchan परिवार रहता है। अपने प्रशंसकों को दर्शन भी वह इसी बंगले की बालकनी से देते हैं। उनका तीसरा बंगला ‘जनक’ भी जलसा से चंद कदमों की दूरी पर है, जिसका उपयोग कार्यालय के रूप में किया जाता है।

अमर सिंह से दोस्ती के दिनों में वह ‘जनक’ में ही आकर रुकते थे। जुहू क्षेत्र में ही उनका चौथा बंगला ‘वत्स’ भी है, जिसे एक बैंक को किराए पर दिया गया है। Amitabh Bachchan के पिता हरिवंशराय Bachchan व माता तेजी Bachchan का ज्यादा समय ‘प्रतीक्षा’में ही गुजरा है।