बॉलीवुड में धूम मचाने वाली हैं रीमेक फिल्में, आमिर खान की ‘लाल सिंह चड्ढा’ सहित ये मूवी हैं लिस्ट में शामिल

बॉलीवुड में धूम मचाने वाली हैं रीमेक फिल्में, आमिर खान की ‘लाल सिंह चड्ढा’ सहित ये मूवी हैं लिस्ट में शामिल

बालीवुड में रीमेक फिल्में बनती रही हैं, पर इन दिनों इस ट्रेंड में काफी तेजी आई है। साउथ की सफल फिल्मों ‘हिट, ‘सूरराई पोटरु’, ‘सिंघम 3’, ‘यू टर्न’, ‘अला वैकुंठपुरमलो’, ‘दृश्यम 2’, ‘विक्रम वेधा’, ‘मास्टर’, ‘कैथी’ इत्यादि की रीमेक बनाने की घोषणा हुई है।

वहीं ‘एज्रा’, ‘आरएक्स 100’, ‘जर्सी’ सहित कई रीमेक फिल्में सिनेमाघरों के खुलने का इंतजार कर रही हैं। आमिर खान अभिनीत ‘लाल सिंह चड्ढा’, दीपिका पादुकोण की फिल्म ‘द इंटर्न’, टाइगर श्राफ की फिल्म ‘रैंबो’ हालीवुड फिल्मों की रीमेक होंगी। रीमेक में निर्माताओं की दिलचस्पी, चुनौतियों और बजट संबंधी पहलुओं की पड़ताल की स्मिता श्रीवास्तव व प्रियंका सिंह ने…महबूब खान ने अपनी फिल्म ‘औरत’ की रीमेक ‘मदर इंडिया’ बनाई थी।

‘मदर इंडिया’ हिंदी सिनेमा के इतिहास में मील का पत्थर साबित हुई। हिंदी सिनेमा में जितेंद्र अकेले अभिनेता हैं, जिन्होंने अपने पूरे करियर में करीब पांचदर्जन से अधिक रीमेक फिल्मों में काम किया। ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श कहते हैं कि मनोरंजक फिल्मों की रीमेक बनती हैं, क्योंकि वे दर्शकों को सहज आकर्षित करती हैं। जितेंद्र, धर्मेंद्र, अमिताभ बच्चन ने कई रीमेक फिल्मों में काम किया है।

वह दौर फिर से शुरू हुआ है, जहां साउथ की फिल्मों की हिंदी रीमेक बड़े पैमाने पर बन रही हैं। चाय हर किसी के घर में बनती है, लेकिन उसका स्वाद अलग होता है, क्योंकि बनाने का तरीका अलग होता है। उसी तरह एक ही कहानी को चार अलग फिल्ममेकर्स बनाएं तो फिल्म अलग बनती है।

रीमेक फिल्म बनाना आजमाया हुआ फार्मूला रहा है। वह फिल्म किसी रीजन में पसंद की गई है, इसलिए उसे रीमेक किया जाता है। पहले से मेकर्स तैयार होते हैं कि किस सीन में ताली बजेगी, किसमें ड्रामा होगा। ‘लाल सिंह चड्ढा’ हालीवुड फिल्म ‘फारेस्ट गम्प’ की आधिकारिक रीमेक है। करोड़ों लोगों ने ‘फारेस्ट गम्प’ फिल्म देखी है। रीमेक में आमिर खान क्या बदलाव लाएंगे, वह देखना दिलचस्प होगा।

मूल फिल्म से बेहतर बनाना चुनौती:

तेलुगु फिल्म ‘अर्जुन रेड्डी’ का निर्देशन कर चुके संदीप रेड्डी वांगा ने उसकी हिंदी रीमेक ‘कबीर सिंह’ का भी निर्देशन किया था। वह कहते हैं कि जब आप फिल्मों को रीमेक करते हैं तो यह स्वाभाविक खयाल आता है कि लोग फिल्म एक बार देख चुके हैं, अब इसमें क्या नयापन लाऊं, लेकिन यह विचार प्री प्रोडक्शन तक ही रहते हैं।

जैसे ही आप एक दूसरे कलाकार को कास्ट्यूम्स में उन इमोशंस को लाते हुए देखते हैं तो अपने आप ऊर्जा दोगुनी हो जाती है। मन में यही खयाल रहता है कि मूल फिल्म के स्तर तक रीमेक को पहुंचाना है या उससे भी ऊपर ले जाना है। वह पैरामीटर हमेशा दिमाग में चलता रहता है।

हर भाषा में दर्शक चाहते हैं अपना कलाकार:

मलयालम में बनी फिल्म ‘दृश्यम’ को हिंदी, तेलुगु, तमिल, मंदारिन भाषा में रीमेक किया गया था। अलग-अलग भाषाओं में रीमेक की जरूरत को लेकर मूल फिल्म के अभिनेता मोहनलाल कहते हैं कि हर भाषा के दर्शक अपने हीरो को उस फिल्म में देखना चाहते हैं। मलयालम फिल्म में दर्शक मुझे देखना चाहेंगे, वैसे ही तमिल दर्शक ‘दृश्यम 2’ में कमल हासन को देखेंगे, तेलुगु दर्शक वेंकटेश को, कन्नड़ दर्शक रविचंद्रन और हिंदी के दर्शक अजय देवगन को ही देखना चाहेंगे।

‘दृश्यम’ के मुख्य किरदार को अलग भाषाओं में अलग कलाकारों ने निभाया है। उनके किरदारों के नाम भी अलग हैं। हर भाषा में इस फिल्म को सबने अपने स्टाइल से बनाया है। हिंदी कहानी में मैंने छोटे-छोटे बदलाव देखे थे, जो हिंदी भाषी दर्शकों के लिए सही थे। अजय देवगन की परफार्मेंस बहुत अच्छी थी।

चाइनीज रीमेक में क्लाइमेक्स को बदल दिया गया है। वहां पर उन्होंने पुलिस के साथ खेलने की कोशिश नहीं की थी। महामारी के बाद भी वह फिल्म चीन में बड़ी कमाई करने वाली फिल्मों में शामिल हुई थी। अब उन्होंने ‘दृश्यम 2’ के राइट्स मांगे हैं, जो हमारे लिए बड़ी बात है। कोरियन इसे अपनी भाषा में बनाना चाहते हैं। अगर फिल्म का विषय वैश्विक हो तो फिल्म की रीमेक बनाई जा सकती है।

दूसरी संस्कृति में फिल्म लगती है नई:

मराठी फिल्म ‘लपाछपी’ और मलयालम फिल्म ‘फारेंसिक’ की हिंदी रीमेक का निर्देशन विशाल फुरिया कर रहे हैं। वह कहते हैं कि जब किसी पुरानी फिल्म को उसी भाषा में रीमेक किया जाता है तो दौर का अंतर साफ नजर आता है, लेकिन जब किसी दूसरी भाषा की फिल्म को हिंदी में रीमेक किया जाता तो सीधे संस्कृति का अंतर हो जाता है। दूसरी भाषा में डबिंग का विकल्प हमेशा होता है, लेकिन जब कहानी को एक संस्कृति से निकालकर दूसरी संस्कृति में सेट किया जाता है तो उससे फिल्म नई दिखने लग जाती है।

जैसे मैंने जब अमेरिकी शो ‘क्रिमिनल जस्टिस’ का रीमेक तैयार किया था तो उस कहानी को भारत में सेट करते ही वह अलग बन गई थी। ‘फारेंसिक’ और ‘लपाछपी’ की हिंदी रीमेक फिल्म ‘छोरी’ के साथ भी ऐसा ही होगा, जब वह फिल्म नए कल्चर में जाएगी तो अलग दिखेगी।

मेक में जो सबसे जरूरी बात ध्यान में रखनी होती है, वह है कि फिल्म की आत्मा न बदल जाए। कई बार क्षेत्रीय भाषा वाली फिल्में सिर्फ एक ही राज्य तक बंधकर रह जाती हैं। जब फिल्मों को डब किया जाता है तो फिल्म का चार्म कम हो जाता है। अगर फिल्म को सही तरह से रीमेक किया जाए तो पैन इंडिया दर्शकों तक वह फिल्म पहुंचती है। हिंदी इंडस्ट्री की पहुंच ज्यादा है।

भारतीय दर्शकों के मुताबिक बदलाव:

रीमेक करते वक्त भारतीय दर्शकों की पसंद और उनके टेस्ट का ध्यान भी रखना होता है। फिल्म ‘लूप लपेटा’ जर्मन फिल्म ‘रन लोला रन’ की आधिकारिक हिंदी रीमेक है। इस फिल्म के अभिनेता ताहिर राज भसीन का कहना है कि ‘रन लोला रन’ में रोमांस का इतना बड़ा हिस्सा नहीं था, जितना ‘लूप लपेटा’ में है। हिंदी फिल्मों में रोमांस पर खासा ध्यान दिया जाता है।

‘रन लोला रन’ में पीछा करने वाले कई दृश्य थे, लेकिन हिंदी रीमेक में इन दृश्यों के साथ प्यार वाला एंगल और केमिस्ट्री भी लानी थी, ताकि दर्शक उससे जुड़ पाएं। हालांकि कई बार निर्देशक रीमेक फिल्मों में दृश्यों को हूबहू शूट करते हैं। सुजाय घोष ने स्पेनिश फिल्म की रीमेक ‘बदला’ बनाई थी। ‘बदला’ और ‘द इनविसिबल गेस्ट’ के कई दृश्य एकसमान दिखने को लेकर उनका कहना था कि मैं अच्छी चीज के साथ छेड़छाड़ क्यों करूं।

हिट फार्मूला हैं रीमेक फिल्में:

आने वाले दिनों में हिंदी में कई रीमेक फिल्में देखने को मिलेंगी। साउथ की फिल्मों की रीमेक बाक्स आफिस पर हिट फार्मूला साबित हुआ है। तमिल एक्शन फिल्म ‘सिंघम 3’ की हिंदी रीमेक बना रहे फिल्ममेकर गुड्डू धनोआ कहते हैं कि रीमेक के मुकाबले नई कहानियों को नई दिशा देना, नया संगीत बनाने में जो मजा है, वह संतुष्टि रीमेक फिल्में नहीं देती हैं, पर आजकल निर्माता बिजनेस माइंडेड हो गए हैं, इसलिए रीमेक फिल्में अधिक बन रही हैं।

प्रमोशन में यह बात जरूर बताई जाती है कि यह फलां फिल्म की रीमेक है। इससे दर्शकों को फिल्म देखने का भरोसा आता है। मैं ‘सिंघम 3’ को रीमेक कर रहा हूं। हालांकि मेरी फिल्म के हीरो की एंट्री मूल फिल्म से अलग होगी, डिजिटल पोस्टर अलग होगा। ‘सिंघम 3’ सूर्या के साथ बनी थी, वह साउथ के बड़े स्टार हैं। हमारी फिल्म रीमेक है, लेकिन हम नए हीरो को लांच कर रहे हैं, इसलिए हमारा बजट मूल फिल्म से कम होगा।

साउथ की फिल्मों की बनेंगी हिंदी रीमेक

तेलुगु फिल्म ‘हिट’ की रीमेक में राजकुमार राव और सान्या मल्होत्रा होंगे। साल 2016 में बनी कन्नड़ फिल्म ‘यू टर्न’ की रीमेक बना रही हैं एकता कपूर। फिल्म में अलाया एफ होंगी। साल 2017 में रिलीज हुई तमिल एक्शन फिल्म ‘सिंघम 3’ की रीमेक ‘रोमियो’ बना रहे हैं गुड्डू धनोआ। तमिल फिल्म ‘सूरराई पोटरु’ की रीमेक बनाने की घोषणा निर्माता विक्रम मल्होत्रा ने की है। यह एयर डेक्कन के संस्थापक जी आर गोपीनाथ के जीवन से प्रेरित होगी।

तेलुगु फिल्म ‘नांधी’ की रीमेक अजय देवगन बनाएंगे। तमिल फिल्म ‘अरुवी’ की रीमेक में फातिमा सना शेख होंगी। साल 2017 में रिलीज हुई तमिल फिल्म ‘विक्रम वेधा’ की रीमेक में रितिक रोशन और सैफ अली खान होंगे।

द्य तेलुगु फिल्म ‘जर्सी’ की रीमेक में शाहिद कपूर होंगे। तमिल फिल्म ‘पितामगन’ की रीमेक के राइट्स सतीश कौशिक ले चुके हैं। तेलुगु फिल्म ‘अला वैकुंठपुरमलो’ के रीमेक में कार्तिक आर्यन हैं। मलयालम हारर थ्रिलर फिल्म ‘एज्रा’ की रीमेक भी बनकर तैयार है।

फिल्म में इमरान हाशमी प्रमुख भूमिका में हैं मलयालम फिल्म ‘हेलेन’ की रीमेक पर अगस्त से जाह्नवी कपूर काम शुरू करेंगी। तेलुगु फिल्म ‘आर एक्स 100’ की रीमेक से सुनील शेट्टी के बेटे अहान शेट्टी डेब्यू करेंगे। फिल्म बनकर तैयार है। तमिल फिल्म ‘थाडम’ की रीमेक में आदित्य राय कपूर के होने की खबरें हैं।

रीमेक करने में अव्वल अजय देवगन

अजय देवगन को साउथ की फिल्मों के रीमेक का बादशाह कहें तो गलत नहीं होगा, क्योंकि ‘सिंघम’ अभिनेता नौ रीमेक फिल्में कर चुके हैं। वह तमिल फिल्म’कैथी’, तेलुगु फिल्म ‘नांधी’ की हिंदी रीमेक की घोषणा कर चुके हैं। इससे पहले वह साउथ की फिल्मों की रीमेक ‘दृश्यम’, ‘एक्शन जैक्सन’, ‘हिम्मतवाला’,’सन आफ सरदार’, ‘सिंघम’, ‘संडे’, ‘गोलमाल- फन अनलिमिटेड’, ‘इंसान’, ‘युवा’ कर चुके हैं, वहीं सलमान खान की फिल्म ‘तेरे नाम’, ‘वांटेड’, ‘रेडी’, ‘बॉडीगार्ड’, ‘जय हो’, ‘गाड तुस्सी ग्रेट हो’, ‘किक’ साउथ की रीमेक रही हैं। उनकी फिल्म ‘राधे- योर मोस्ट वांटेड भाई’ कोरियन फिल्म ‘आउटलाज’, जबकि ‘भारत’ ‘ओड टू माई फादर’ की रीमेक है। तमिल फिल्म ‘मास्टर’ की हिंदी रीमेक में सलमान खान के होने की खबरें हैं।

विदेशी फिल्मों की रीमेक

आमिर खान और करीना कपूर अभिनीत फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ टाम हैंक्स अभिनीत हालीवुड फिल्म ‘फारेस्ट गम्प’ की रीमेक है। तापसी पन्नू और ताहिर राज भसीन अभिनीत फिल्म ‘लूप लपेटा’ जर्मन फिल्म ‘रन लोला रन’ की रीमेक है। कार्तिक आर्यन अभिनीत फिल्म ‘धमाका’ कोरियन फिल्म ‘द टेरर लाइव’ की रीमेक होगी।

हालीवुड की फिल्म ‘द इंटर्न’ की रीमेक में दीपिका पादुकोण और अमिताभ बच्चन होंगे। साल 2011 में रिलीज हुई कोरियन फिल्म ‘ब्लाइंड’ की इसी नाम से बनी रीमेक की शूटिंग सोनम कपूर खत्म कर चुकी हैं। सिल्वेस्टर स्टेलान अभिनीत हालीवुड फिल्म ‘रैंबो’ की रीमेक में टाइगर श्राफ काम करेंगे